ITI COPA

Showing posts with label Operating System. Show all posts
Showing posts with label Operating System. Show all posts

Disk Operating System (DOS) Hindi Notes

Disk Operating System (DOS) | An Introduction

 डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (डॉस) का परिचय
Introduction to Disk Operating System (DOS)

DOS Commands Hindi Notes

कम्प्यूटर से कोई काम कराने के लिए हमें पूरे और सही आदेश देने पड़ते हैं । ये आदेश किसी ऐसी भाषा में होने चाहिए जिसे कम्प्यूटर समझ सके। कम्प्यूटर वास्तव में केवल ऑपरेटिंग सिस्टम की भाषा समझता है। ऑपरेटिंग सिस्टम ही कम्प्यूटर का सुपरवाइजर या मैनेजर है। इसलिए हम अपने आदेश अपनी भाषा में कम शब्दों में ऑपरेटिंग सिस्टम को देते हैं, जिनको वह कम्प्यूटर की भाषा में बदलकर उसे भेज देता है। यदि हमारे और कम्प्यूटर के बीच में ऑपरेटिंग सिस्टम न हो तो हम कम्प्यूटर से कोई काम नहीं करा सकेगें ।

डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (डॉस) | Disk Operating System (DOS)


डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (DOS) सबसे पहले IBM कंपनी द्वारा पर्सनल कंप्यूटर्स के लिए प्रयुक्त पहला ऑपरेटिंग सिस्टम था। यह मूल रूप से दो संस्करणों में उपलब्ध था जो एक समान थे, लेकिन दो अलग-अलग नामों के तहत उपलब्ध कराए गए था। PC-DOS आईबीएम द्वारा विकसित संस्करण था एवं MS-DOS, माइक्रोसॉफ्ट द्वारा उपलब्ध कराया गया था। कम्प्यूटर अपने ऑपरेटिंग सिस्टम के नियंत्रण में ही काम करता है। डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (DOS) एक कंप्यूटर ऑपरेटिंग सिस्टम है जो डिस्क स्टोरेज डिवाइस जैसे कि फ्लॉपी डिस्क, हार्ड डिस्क ड्राइव का उपयोग कर सकता है। डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम कम्प्यूटर सिस्टम में फाइल स्टोरेज एवं फाइल मेनेजमेंट, कम्प्यूटर सिस्टम एवं हार्डवेयर डिवाइस को कंट्रोल करने के लिए प्रयोग किया जाता है।
आई.बी.एम. के पर्सनल कम्प्यूटरों के लिए जो ऑपरेटिंग सिस्टम बनाया उसे पर्सनल कम्प्यूटर-डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम या पीसी- डॉस (PC-DOS) कहा गया। बाद में माइक्रोसॉफ्ट उसका नाम माइक्रोसॉफ्ट-डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम या एमएस-डॉस (MS-DOS) रखा।

डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (DOS) का महत्त्व | Importance of Disk Operating System (DOS)


डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (DOS) कमांड लाइन इंटरफ़ेस (CLI) का उपयोग करता है, जो उपयोगकर्ता (Users) को कमांड टाइप करने की अनुमति देता है। copy और cd (चेंज डायरेक्टरी) जैसे सरल निर्देशों को टाइप करके उपयोगकर्ता हार्ड ड्राइव पर फाइलें ब्राउज़ कर सकते हैं, फाइलें खोल सकते हैं और प्रोग्राम चला सकते हैं। डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (DOS) की कमांड्स टाइप करने के लिए आसान एवं सरल हैं। लेकिन इस ऑपरेटिंग सिस्टम की कमांड्स को नए सीखने वालों के लिए उपयोग करना मुश्किल होता है, इसी वजह से बाद में माइक्रोसॉफ्ट ने ग्राफिक आधारित विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम को डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (DOS) जोड़ दिया।
डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (DOS) का उपयोग किसी सिस्टम या कंप्यूटर को संचालित करने के लिए किया जाता है। यह कंप्यूटर प्रोग्राम का एक सेट है जिसके मुख्य कार्य डिस्क फ़ाइलों को मैनेज करना, आवश्यकता के अनुसार सिस्टम संसाधनों को आवंटित करना है। डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (DOS) कीबोर्ड, स्क्रीन, डिस्क डिवाइस, प्रिंटर, मोडेम और प्रोग्राम जैसे हार्डवेयर उपकरणों को नियंत्रित करने के लिए आवश्यक सुविधाएँ प्रदान करता है।
डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (DOS) वह माध्यम है जिसके माध्यम से सिस्टम से जुड़े उपयोगकर्ता और बाहरी उपकरण कंप्यूटर सिस्टम के साथ संवाद (Communication) करते हैं। DOS कंप्यूटर द्वारा समझे जाने वाले लैंग्वेज में उपयोगकर्ता द्वारा जारी किए गए आदेश का अनुवाद करता है और कंप्यूटर को उसी के अनुसार काम करने का निर्देश देता है। यह उपयोगकर्ता को समझने योग्य परिणाम और किसी भी त्रुटि संदेश का भी अनुवाद करता है।

डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (डॉस) एवं विंडोज़ में अंतर | Difference between Disk Operating System (DOS) and Windows


डॉस (DOS) सिंगल-टास्किंग ऑपरेटिंग सिस्टम है जबकि विंडोज मल्टी-टास्किंग ऑपरेटिंग सिस्टम है। डॉस का उपयोग करना विंडोज़ की अपेक्षा अधिक समय लेता है क्योंकि इसमें एक समय में केवल एक ही ऑपरेशन (कमांड) चला सकते हैं। जबकि विंडोज़ में उपयोगकर्ता एक साथ विभिन्न कार्य कर सकते हैं।

Difference between DOS and Windows

डॉस एक कमांड-लाइन ऑपरेटिंग सिस्टम है, जबकि विंडोज ग्राफिकल बेस्ड ऑपरेटिंग सिस्टम है। डॉस उपयोगकर्ताओं को कमांड लाइन इंटरफेस (CLI) में कंप्यूटर कार्यों को करने के लिए कमांड टाइप करने की आवश्यकता होती थी। जबकि ग्राफिकल यूजर इंटरफेस (GUI) ने विंडोज उपयोगकर्ताओं को माउस पॉइंटर, आइकान, ग्राफिकल ऑब्जेक्ट्स के द्वारा कम्प्यूटर पर कार्यों को आसानी करने में मदद करता है।

विंडोज़ ऑपरेटिंग सिस्टम नेटवर्किंग सपोर्ट करता है जबकि डॉस (DOS) नेटवर्किंग को सपोर्ट नहीं करता है। विंडोज़ को कई उपयोगकर्ताओं के बीच डेटा और संसाधनों को शेयर करने के लिए अन्य कंप्यूटरों से जोड़ा जा सकता है।

डॉस ऑपरेटिंग सिस्टम मल्टीमीडिया को सपोर्ट नहीं करता है, जबकि विंडोज मल्टीमीडिया को सपोर्ट करता है। MS-DOS के उपयोगकर्ता गेम खेलने, मूवी देखने या संगीत सुनने जैसी गतिविधियाँ नहीं कर सकते, जबकि Windows उपयोगकर्ता सभी मल्टीमीडिया प्रोग्राम का आनंद ले सकते हैं।

डॉस एक ऑपरेटिंग सिस्टम है जो एक डिस्क स्टोरेज डिवाइस का उपयोग कर सकता है इसे फ्लॉपी डिस्क या हार्ड डिस्क ड्राइव पर इंस्टाल कर प्रयोग किया जा सकता है। लेकिन विंडोज़ को किसी बाहरी डिस्क पर सामान्यतः इंस्टॉल नहीं कर सकते हैं।

वर्तमान में डॉस का व्यापक रूप से उपयोग नहीं किया जाता है, जबकि विंडोज विश्व स्तर पर प्रमुख ऑपरेटिंग सिस्टम बन गया है। विंडोज़ उपयोगकर्ताओं में डॉस की तुलना में अधिक सुविधाएं हैं। डॉस में लिमिटेड स्टोरेज का उपयोग किया जाता है जबकि विंडोज़ में अनलिमिटेड स्टोरेज का प्रयोग कर सकते हैं। जिससे विंडोज़ उपयोगकर्ता अपने मेमोरी स्टोरेज की चिंता किए बिना बहुत सारा डेटा स्टोर कर सकते हैं।

डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम के कार्य | Functions of Disk Operating System (DOS)


एक ऑपरेटिंग सिस्टम कंप्यूटर प्रोग्राम का एक समूह है जो कंप्यूटर हार्डवेयर उपकरणों के बीच सभी गतिविधियों का समन्वय करता है। यह एक बूट प्रोग्राम द्वारा कंप्यूटर में लोड किया गया पहला प्रोग्राम है और हर समय मेमोरी में बना रहता है।
 डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम के मूल कार्य हैं:
  1  कंप्यूटर को बूट करना (Booting up Computer)
  2  हार्डवेयर कॉन्फ़िगर करना (Configure Hardware)
  3  यूजर इंटरफेस उपलब्ध कराना (Provide User Interface)
  4  सिस्टम रिसोर्सेज का उपयोग (Using System Resources)
  5  फ़ाइल मैनेजमेंट (File Management)

कंप्यूटर को बूट करना (Booting up Computer)


कंप्यूटर को शुरू करने या फिर से शुरू करने की प्रक्रिया को बूटिंग के रूप में जाना जाता है। बूटिंग दो प्रकार की होती है- कोल्ड बूट एवं वार्म बूट. कोल्ड बूट तब होता है जब आप उस कंप्यूटर को चालू करते हैं जिसे पूरी तरह से बंद कर दिया गया है एवं वार्म बूट कंप्यूटर को पुनःआरंभ या रीस्टार्ट करने के लिए उपयोग किया जाता है।

हार्डवेयर कॉन्फ़िगर करना (Configure Hardware)


डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम बेसिक कंप्यूटर हार्डवेयर जैसे कि माउस, कीबोर्ड और प्रिंटर जैसे विभिन्न पेरिफेरल उपकरणों को कॉन्फ़िगर कर उनके संचालन में मदद करता है। उदाहरण के लिए प्रिंटर को प्रिन्ट निकालने के लिए एवं उपयोग करने के लिए कॉन्फ़िगर करना।

यूजर इंटरफेस उपलब्ध कराना (Provide User Interface)


यूजर ऑपरेटिंग सिस्टम के इंटरफ़ेस के माध्यम से सॉफ्टवेयर के साथ इंटरैक्ट करता है। उपयोगकर्ता इंटरफेस के दो मुख्य प्रकार हैं: कमांड लाइन और एक ग्राफिकल यूजर इंटरफेस (जीयूआई)।
डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (DOS) कमांड लाइन इंटरफेस के साथ, उपयोगकर्ता को विशिष्ट कार्यों को करने के लिए कमांड टाइप करके ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ इंटरैक्ट करने की सुविधा प्रदान करता है।

सिस्टम रिसोर्सेज का उपयोग (Using System Resources)


डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (DOS) विभिन्न एप्लीकेशन या पेरिफेरल उपकरणों द्वारा सिस्टम संसाधन जैसे कंप्यूटर की मेमोरी और सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (सीपीयू) आदि को शेयर एवं मैनेज करना भी संभालता है। ऑपरेटिंग सिस्टम यह सुनिश्चित करता है कि प्रत्येक एप्लिकेशन को पूरी कार्यक्षमता के साथ काम करने के लिए आवश्यक संसाधन मिलते रहें।

फ़ाइल मैनेजमेंट (File Management)


डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (DOS) कंप्यूटर डिस्क में सेव की गई फ़ाइलों और डायरेक्टरी के संगठन और ट्रैकिंग को भी संभालता है। फ़ाइल मैनेजमेंट प्रणाली उपयोगकर्ता को फ़ाइलों और निर्देशिकाओं को बनाने, फ़ाइलों का नाम बदलने, फाइलों को कॉपी करने और स्थानांतरित करने और फ़ाइलों को हटाने जैसे कार्यों को करने की अनुमति देती है। डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम फाइल एलोकेशन टेबल (FAT) के माध्यम से डिस्क में फाइल सिस्टम को ट्रैक करता है।

डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (डॉस) बूटिंग प्रोसेस | Disk Operating System (DOS) Booting Process


कंप्यूटर को स्टार्ट करने की प्रक्रिया को बूटिंग के रूप में जाना जाता है। बूटिंग दो प्रकार की होती है- कोल्ड बूट (Cold Boot) एवं वार्म बूट (Warm Boot)। . कोल्ड बूट तब होता है जब आप उस कंप्यूटर को चालू करते हैं जिसे पूरी तरह से बंद कर दिया गया है एवं वार्म बूट कंप्यूटर को पुनःआरंभ या रीस्टार्ट करने के लिए उपयोग किया जाता है।
डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (DOS) को स्टार्ट करने के लिए मुख्य रूप से तीन फाइलें उपयोग में लाई जाती हैं -
 command.com,
 io.sys एवं
 msdos.sys.
ये फाइल्स किसी भी कंप्यूटर को डॉस द्वारा बूट कराने के लिए आवश्यक होती हैं। जब पीसी की बूटिंग की जाती है तो एमएस-डॉस रूट डायरेक्ट्री में एक फाइल की खोज करता है जिसका नाम है – AUTOEXEC.BAT
यह एक बैच फाइल है, जिसमें कुछ ऐसे आदेश होते हैं, जिन्हें आप पीसी चालू करते ही उनका पालन कराना चाहते हैं । उदाहरण के लिए, आप चाहते हैं कि बूटिंग के बाद तारीख और समय सेट किया जाए या यह बताना चाहते हैं कि अगर कोई फाइल कहीं न मिले तो उसे किस डायरेक्ट्री में ढूंढना है आदि । एक साधारण AUTOEXEC.BAT फाइल में निम्नलिखित आदेश होते हैं –
 DATE
 TIME
 PROMPT $P$G
 PATH = C:\DOS;C:\WS;C:\WINDOWS

डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (डॉस) कमांड्स | Disk Operating System (DOS) Commands


डॉस कमांड, डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम में उपलब्ध कमांड हैं जो ऑपरेटिंग सिस्टम और अन्य कमांड लाइन आधारित सॉफ्टवेयर के साथ कार्य करने के लिए उपयोग किए जाते हैं। डॉस कमांड्स को डॉस प्रोम्प्ट "C:\>" पर कमांड को टाइप करके प्रयोग किया जाता है.

DOS Command Prompt


एमएस-डॉस कमांड्स दो प्रकार के होते हैं :-
♦ इंटरनल डॉस कमांड्स
♦ एक्सटर्नल डॉस कमांड्स

इंटरनल डॉस कमांड्स | Internal (DOS) Commands


इंटरनल डॉस कमांड्स ऐसे आदेश है जो एमएस-डॉस की मुख्य फाइल command.com में पहले से होते हैं क्योंकि ये सबसे महत्वपूर्ण हैं और बार-बार देने पड़ते हैं।
ये आदेश कम्प्यूटर की मुख्य मेमोरी में हर समय उपलब्ध रहते हैं तथा इन्हें चलाने के लिए किसी और फाइल की आवश्यकता नहीं होती है इसलिए इन्हें आन्तरिक आदेश कहा जाता है।
एमएस-डॉस की इन्टर्नल कमांड्स (Internal Commands) निम्नलिखित हैं:-
BREAK, COPY, ERASE, RD, SHIFT, EXIT, MD, REM, TIME, CD, DATE, FOR, MKDIR, REN, TYPE, CHCP, DEL, GOTO, PATH, RENAME, VER, CHDIR, DIR, IF, PAUSE, RMDIR, VERIFY, CLS, ECHO, PROMPT, SET, VOL.

एक्सटर्नल डॉस कमांड्स | External DOS Commands

एक्सटर्नल डॉस कमांड्स ऐसे आदेश हैं जो कम्प्यूटर की मुख्य मैमोरी में उपलब्ध नहीं रहते बल्कि अलग प्रोग्राम फाइलों के रूप में डिस्क पर स्टोर रहते हैं। जैसे ही आप कोई बाह्य कमांड देते हैं, कमान्ड प्रोसेसर उसकी सम्बन्धित फाइल को डिस्क पर ढूंढता है और मिल जाने पर मैमोरी में लोड कर देता है । इसके साथ ही उस कमान्ड का पालन शुरू हो जाता है। एक्सटर्नल डॉस कमांड्स चलाने के लिए यह आवश्यक है कि इनका संस्करण वही होना चाहिए जो आपके एमएस-डॉस का है, नहीं तो ‘Incorrect Version’ का संदेश आएगा और कमांड रद्द हो जाएगी।
एमएस-डॉस के मुख्य एक्सटर्नल डॉस कमांड्स निम्नलिखित हैं :-
APPEND, DOSKEY, HELP, MOVE, SORT, ATTRIB, DOSSHELL, KEYB, MSAV, SYS, CHKDSK, EXPAND, LABEL, NLSFUNC, TREE, DELTREE, FASTOPEN, MEM, MSBACKUP, UNDELETE, DISKCOMP, FORMAT, MEMMAKER, PRINT, XCOPY, DISKCOPY, GRAPHICS, MORE, RESTORE





















Tags - What is MS DOS? How to use Microsoft Disk Operating System? How to Open DOS in Windows? Different DOS Commands? Internal and External DOS Commands. Using DOS Commands for File Management. Different DOS Commands .
डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है? डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (DOS) के क्या उपयोग है? कम्प्युटर में डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (DOS) को कैसे प्रयोग करें? डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (DOS) में फाईल बनाना, सेव करना, फाइल देखने हेतु कमांड्स. डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (DOS) की कमांड्स को प्रयोग कैसे करें? डॉस (DOS) क्या है ? DOS full form. What is Dos in Hindi. एमएस डॉस का उपयोग कैसे करें? Internal & External DOS Commands in Hindi. MS DOS commands in Hindi. Computer Hindi Notes PDF Books Downloads. डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम इन हिंदी.



 

||    Theory    ||    Practicals    ||    Video Tutorials    ||    Online Test Series   ||


MS Paint Practicals | Drawing Tools

Microsoft Paint | Drawing Tools

  माइक्रोसॉफ्ट पेंट - ड्रॉइंग टूल्स | Microsoft Paint - Drawing Tools

How to draw in MS-Paint?

माइक्रोसॉफ्ट पेंट - ड्रॉइंग टूल्स का परिचय | Introduction to Drawing Tools

माइक्रोसॉफ्ट पेंट (MS-Paint), एक रेस्टर ग्राफिक्स एडिटिंग प्रोग्राम है जिसमें बिटमैप (.bmp), जेपीईजी (.jpeg), जीआईएफ (.gif), पीएनजी (.png) और टीआईएफएफ (.tiff) फॉर्मेट की फाइलें ओपन, एडिट एवं सेव की जा सकती हैं। माइक्रोसॉफ्ट पेंट (MS-Paint) में इमेज / पिक्चर्स को एडिट करने के लिए कुछ बेसिक टूल्स का प्रयोग पूर्व में देख चुके हैं। माइक्रोसॉफ्ट पैन्ट में इमेज एडिटिंग टूल्स का प्रयोग कर पिक्चर्स को सिलेक्ट, क्रॉप, रोटैट, फ्लिप किया जा सकता है।
माइक्रोसॉफ्ट पेंट (MS-Paint) बेसिक ड्रॉइंग बनाने के लिए विभिन्न टूल्स उपलब्ध कराता है, जिनकी सहायता से ड्रॉइंग का कार्य आसानी से किया जा सकता है। माइक्रोसॉफ्ट पेंट होम टैब के अंतर्गत ये टूल्स दिए गए हैं।

MS-Paint Home Tab Tools
MS-Paint Home Tab

होम टैब में क्लिपबोर्ड एवं इमेज ग्रुप के बाद विभिन्न ड्रॉइंग टूल दिए गए हैं, जो कि निम्नानुसार हैं।
  ⇨   1 - टूल्स (Tools)
  ⇨   2 - ब्रश (Brushes)
  ⇨   3 - शेप्स (Shapes)
  ⇨   4 - साइज़ (Size)
  ⇨   5 - कलर्स (Colors)

बेसिक ड्रॉइंग टूल्स का प्रयोग | Using Basic Drawing Tools in MS-Paint


माइक्रोसॉफ्ट पेंट में होम टैब में टूल्स (Tools) ऑप्शन बेसिक ड्रॉइंग के लिए प्रयोग किए जाते हैं। टूल्स (Tools) ग्रुप में विभिन्न कार्यों हेतु टूल्स का प्रयोग आसानी से किया जा सकता है।

MS-Paint Drawing Tools
MS-Paint Drawing Tools

टूल्स ग्रुप में मुख्य रूप से 6 ड्रॉइंग टूल दिए गए हैं।
1- पेंसिल टूल (Pencil)
2- एरेजर टूल (Eraser)
3- फिल विद कलर (Fill with colour)
4- कलर पिकर (Colour Picker)
5- टेक्स्ट टूल (Text Tool)
6- मेग्नीफायर (Magnifier)

माइक्रोसॉफ्ट पेंट - पेंसिल टूल का प्रयोग | Using Pencil in MS-Paint


पेंसिल टूल का उपयोग मुख्य रूप से फ्री-हैंड ड्राइंग के लिए किया जाता है। पेंसिल टूल का उपयोग केनवास पर माउस द्वारा लेफ्ट बटन को प्रेस करते हुए स्क्रीन पर किसी भी दिशा में किया जा सकता है। जिस तरह किसी पेपर पर पेंसिल द्वारा ड्रॉइंग की जाती है, उसी प्रकार केनवास पर यह दिखाई देती है।

MS-Paint Drawing using Pencil Tools

पेंसिल टूल को लेफ्ट माउस बटन को दबा कर फोरग्राउन्ड कलर (Color 1) एवं राइट माउस बटन के साथ बैकग्राउंड कलर (Color 2) में कोई भी आकृति ड्रॉ की जा सकती है। पेंसिल टूल का एडवांस उपयोग ज़ूम इन व्यू (Zoom In) में पिक्सेल-बाई-पिक्सेल (Pixel by Pixel) एडिटिंग के लिए भी किया जा सकता है।
माइक्रोसॉफ्ट पेंट में साइज़ टूल द्वारा पेंसिल की मोटाई को सिलेक्ट किया जा सकता है। पेंसिल का साइज़ बड़ा करने के लिए शॉर्टकट की Ctrl + + (Plus Sign) तथा छोटा करने के लिए Ctrl + - (Minus Sign) का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए न्यूमेरिक कीपैड के + और - बटन का उपयोग करना होगा।

माइक्रोसॉफ्ट पेंट - एरेजर टूल का प्रयोग (Eraser)


पैन्ट में एरेजर टूल (Eraser) टूल का प्रयोग चित्र के किसी भाग को मिटाने के लिए किया जाता है। जब आप किसी हिस्से को मिटाते हैं तो उसकी जगह डिफ़ॉल्ट बैकग्राउंड कलर (Color 2) आ जाएगा।
किसी भी पार्ट मिटाने के लिए एरेजर टूल (Eraser) सिलेक्ट कर माउस के लेफ्ट बटन क्लिक करते हुए उसे स्क्रीन पर ड्रैग करना होगा।

MS-Paint Eraser Tool

पेंसिल की तरह ही एरेजर (Eraser) का साइज़, साइज़ बटन से सिलेक्ट किया जा सकता है। माइक्रोसॉफ्ट पेंट में एरेजर का साइज़ बड़ा करने के लिए शॉर्टकट की Ctrl + + (Plus Sign) तथा छोटा करने के लिए Ctrl + - (Minus Sign) का उपयोग कर सकते हैं।

माइक्रोसॉफ्ट पेंट - फिल विद कलर का प्रयोग | Using Fill with colour in MS-Paint


फिल विद कलर (Fill with colour) टूल का इस्तेमाल इमेज या इमेज के हिस्से को अलग-अलग रंगों से भरने के लिए किया जाता है। कलर फिल करने के लिए माउस पॉइन्टर को पेंट बकेट (Paint Bucket) आइकान सिलेक्ट कर जिस हिस्से को कलर करना है उस पर क्लिक करें। कलर पेलेट से फिल करने हेतु निर्धारित कलर पर क्लिक करके कलर सिलेक्ट किया जा सकता है।

MS-Paint Fill with colour Tool

फिल विद कलर टूल, कलर को किसी एरिया में पूरा फिल करता है। यदि पेंसिल टूल द्वारा इमेज बनाई गई है और उसके बॉर्डर में कहीं खाली जगह है तो कलर पूरे केनवास पर फिल हो जाएगा। इसके लिए इमेज के उस हिस्से को बंद किया जाना आवश्यक होता है।

माइक्रोसॉफ्ट पेंट - कलर पिकर का प्रयोग | Using Color Picker Tool in MS Paint


कलर पिकर (Colour Picker) का प्रयोग किसी इमेज से कलर को औटोमटिक रूप से सिलेक्ट करने के लिए किया जाता है। कलर पिकर टूल सिलेक्ट करके इमेज के किसी भी हिस्से पर क्लिक करने पर कलर पेलेट में वह कलर सिलेक्ट होकर दिखाई देने लगता है। कलर पिकर टूल का उपयोग माउस के लेफ्ट क्लिक द्वारा फोरग्राउन्ड कलर (Colour 1) एवं माउस के राइट क्लिक द्वारा बैकग्राउंड कलर (Colour 2) को सिलेक्ट करने के लिए किया जाता है।

MS-Paint Colour Picker Tool

माइक्रोसॉफ्ट पेंट - टेक्स्ट टूल का प्रयोग | Using Text Tool in MS Paint


टेक्स्ट टूल (Text Tool) किसी भी ड्रॉइंग में टेक्स्ट इन्सर्ट करने की सुविधा प्रदान करता है। इस टूल का प्रयोग करने के लिए टेक्स्ट टूल पर क्लिक करें, जिसके बाद कर्सर इंसर्शन बार (|) में बदल जाता है। इस कर्सर के साथ माउस को ड्रैग कर बॉक्स ड्रॉ करें,यह टेक्स्ट इन्सर्ट करने के लिए एक टेक्स्ट बॉक्स बना देता है। इस टेक्स्ट बॉक्स में कीबोर्ड द्वारा टाइप करके टेक्स्ट टाइप किया जाता है। इसके साथ ही टेक्स्ट टूलबार रिबन पर दिखाई देने लगता है। टेक्स्ट टूलबार से फॉन्ट टाइप, फॉन्ट साइज़, फॉन् बैकग्राउंड, फॉन्ट कलर आदि को निम्नानुसार प्रयोग किया जा सकता है।

Using MS-Paint Text Tool

टेक्स्ट को फॉर्मैट करते समय टेक्स्ट बॉक्स ओपन रहना चाहिए, यदि टेक्स्ट बॉक्स के बाहर क्लिक करने पर टेक्स्ट बॉक्स खत्म हो जाता है एवं टेक्स्ट को एडिट / फॉर्मेट नहीं किया जा सकता। टेक्स्ट का बैकग्राउंड कलर बदलने के लिए बैकग्राउंड ऑप्शन से ओपैक (Opaque) / ट्रांसपेरेंट (Transparent) को सिलेक्ट किया जा सकता है।

मेग्नीफायर (Magnifier)


मेग्नीफायर (Magnifier) ऑप्शन का प्रयोग इमेज को ज़ूम इन एवं ज़ूम आउट करने के लिए किया जाता है। किसी इमेज को ज़ूम इन करके देखने पर बारीक कार्यों को आसानी से किया जा सकता है। मेग्नीफायर (Magnifier) टूल पर क्लिक करने पर स्क्रीन पर लेंस आइकान दिखाई देता है, माउस द्वारा लेफ्ट क्लिक द्वारा ज़ूम इन एवं राइट क्लिक के द्वारा ज़ूम आउट कर सकते हैं।

Using Magnifier Tool in MS-Paint

माइक्रोसॉफ्ट पेंट में किसी इमेज को 12.5% से लेकर 800% तक ज़ूम किया जा सकता है। माउस के स्क्रॉल बटन अथवा स्टैटस बार के ज़ूम स्लाइडर का उपयोग ज़ूम करने के लिए आसानी से किया जा सकता है।

विभिन्न ब्रश का उपयोग कैसे करें? | How to use different brush in MS-Paint?

माइक्रोसॉफ्ट पेंट में ब्रश (Brush) का उपयोग करके विभिन्न प्रकार के ईफेक्ट्स का प्रयोग किया जा सकता है, पेंटब्रश टूल हाथ से पकड़े हुए पेंट ब्रश की नकल करता है। इसके द्वारा विभिन्न पैटर्न ड्रॉ किए जा सकते हैं। ब्रश टूल का उपयोग करने के लिए माउस को क्लिक करते हुए ड्रैग करना होता है। माउस के लेफ्ट बटन का प्रयोग कलर 1 एवं राइट क्लिक का उपयोग कलर 2 के लिए किया जाता है। ब्रश टूल के ड्रॉप डाउन में निम्नानुसार ब्रश दिखाई देते हैं।

How to use different brush in MS-Paint?

अलग अलग ब्रश (Brush) के उपयोग से बनाए गए विभिन्न पैटर्न इस प्रकार दिखाई देते हैं:

different brush strokes in MS-Paint?

माइक्रोसॉफ्ट पेंट शैप्स टूल्स | Using Shapes in MS-Paint

Using Shapes in MS-Paint

MS-Paint में Shapes टूल विभिन्न प्रकार की आकृतियाँ बनाने के लिए प्रयोग किया जाता हैं। शेप्स (Shapes) टूल में 23 शेप्स दिए गए हैं जिनको टूल बॉक्स से सिलेक्ट कर आसानी से ड्रॉ किया जा सकता है। शेप्स (Shapes) बॉक्स में Line, Curve, Oval, Rectangle, Polygon, Triangle, Arrows, Callouts, Hearts, Stars दिए गए हैं। शेप सिलेक्ट करके माउस पॉइन्टर को ड्रैग करके केनवास पर शेप ड्रॉ किए जा सकते हैं।

Using Shapes in MS-Paint

Shapes टूल के आउटलाइन एवं फिल ऑप्शन का प्रयोग करके ब्रश स्ट्रोक की तरह ही आउटलाइन एवं फिल इफ़ेक्ट का उपयोग कर सकते हैं।

कलर पेलेट का उपयोग | Using Colour Pallet in MS-Paint

माइक्रोसॉफ्ट पेंट में कलर पेलेट का उपयोग कलर सिलेक्ट करने के लिए किया जाता है। कलर 1 का प्रयोग मुख्य कलर के लिए एवं कलर 2 का उपयोग बैकग्राउंड कलर के लिए किया जाता है। माउस द्वारा कलर 1 सिलेक्ट करके कलर पेलेट में किसी भी कलर पर क्लिक करने से वह सिलेक्ट होकर कलर 1 में दिखाई देने लगता है। इसके बाद किसी भी टूल का प्रयोग करने पर वह उसी कलर में ऑब्जेक्ट ड्रॉ करता है। इसी प्रकार कलर 2 को भी सिलेक्ट किया जा सकता है।

Using Colour Pallet in MS-Paint

माइक्रोसॉफ्ट पेंट की कलर पेलेट में अन्य कलर को ऐड करने के लिए एडिट कलर ऑप्शन का प्रयोग किया जा सकता है, यह बेसिक कलर के प्रयोग के द्वारा विभिन्न कलर बना कर कलर पेलेट में ऐड कस्टम कलर द्वारा कलर ऐड करने की सुविधा प्रदान करता है।

Edit Colour in MS-Paint

माइक्रोसॉफ्ट पेंट में एडिट कलर तीन बेसिक कलर रेड, ग्रीन, ब्लू (RGB) के विभिन्न संयोजन के साथ ह्यू, सैचरैशन, लुमिनेंस (Hue, Saturation, Luminance) के प्रयोग के द्वारा कई कलर बनाए जा सकते हैं।




















Tags - What is Paint? Introduction To MS Paint. What is the use of MS paint? Starting MS-Paint Program, MS-Paint Program Window, Open, Edit and Save Picture in MS-Paint, MS-Paint Home Tab, Using View Tab, MS-Paint - Image Tools, Introduction to Image Tools, Using Selection Tools in MS-Paint, How to Crop an Image? Resize and Skew Image in MS-Paint, Rotate / Flip Image in MS-Paint. How to Increase the Size of the Eraser in MS Paint? Using Fill with Color in Ms Paint? How to use Color Picker Tool in MS Paint? Using Text Tool in Ms Paint? How to Zoom in / Zoom out in Microsoft Paint? Use of magnifier tool in MS Paint. Magnifier Tool In Ms Paint. How to use different brush in MS-Paint? brush strokes in MS-Paint. Using 23 Basic Shapes in Paint. How to use shapes in MS-Paint? Using color in MS-Paint. Define custom color in Paint. Colour Pallete in MS-Paint. MS Paint क्या है और कैसे सीखें ? MS-Paint क्या है? MS-Paint को विस्तार से जानिए माइक्रोसॉफ्ट पेंट का परिचय, माइक्रोसॉफ्ट पेंट प्रोग्राम स्टार्ट करना, माइक्रोसॉफ्ट पेंट प्रोग्राम विंडो के मुख्य भाग, माइक्रोसॉफ्ट पेंट में पिक्चर ओपन, एडिट एवं सेव करना, माइक्रोसॉफ्ट पेंट होम टैब, व्यू टैब का प्रयोग, माइक्रोसॉफ्ट पेंट - इमेज टूल्स, इमेज टूल्स का परिचय, सिलेक्शन टूल्स का प्रयोग, इमेज को क्रॉप कैसे करें? इमेज को रिसाइज़ एवं स्क्यू करना, इमेज को रोटैट / फ्लिप करना, पेंट शॉर्टकट की का प्रयोग कैसे करें? MS Paint में Eraser Tool का प्रयोग कैसे करते हैं? MS Paint में Fill with Colour Tool का प्रयोग कैसे करें? MS Paint में Color Picker Tool का प्रयोग कैसे करें? MS Paint Text Tool क्या है? MS Paint में टेक्स्ट टूल का प्रयोग कैसे करें? MS Paint में Magnifier का प्रयोग कैसे करें? ब्रश टूल का प्रयोग कैसे करें? MS Paint में Shapes कैसे बनाते है? 23 बेसिक शेप का प्रयोग। MS Paint में Colour Pallete का प्रयोग कैसे करें?



 

||    Theory    ||    Practicals    ||    Video Tutorials    ||    Online Test Series   ||


Using Image Tools in Paint

Microsoft Paint | Edit Pictures

  माइक्रोसॉफ्ट पेंट - इमेज टूल्स | Microsoft Paint - Image Tools

How to use MS-Paint?

इमेज टूल्स का परिचय | Introduction to Image Tools

माइक्रोसॉफ्ट पेंट (MS-Paint), एक रेस्टर ग्राफिक्स एडिटिंग प्रोग्राम है जिसमें बिटमैप (.bmp), जेपीईजी (.jpeg), जीआईएफ (.gif), पीएनजी (.png) और टीआईएफएफ (.tiff) फॉर्मेट की फाइलें ओपन, एडिट एवं सेव की जा सकती हैं। माइक्रोसॉफ्ट पेंट (MS-Paint) में इमेज / पिक्चर्स को एडिट करने के लिए कुछ बेसिक टूल्स दिए गए हैं। इन टूल्स का प्रयोग कर पिक्चर्स को सिलेक्ट, क्रॉप, रोटैट, फ्लिप किया जा सकता है। होम टैब के अंतर्गत इमेज (Image) टूल के अंतर्गत विभिन्न कमांड द्वारा इन कार्यों को आसानी से किया जा सकता है।

MS-Paint Image Command Group
MS-Paint Image Command Group

इमेज (Image) कमांड ग्रुप, होम टैब में क्लिपबोर्ड ग्रुप के बाद दिखाई देता है। इस ग्रुप में निम्नानुसार ऑप्शन दिए गए हैं।
  ⇨   1 - सिलेक्ट (Select)
  ⇨   2 - क्रॉप (Crop)
  ⇨   3 - रिसाइज़ (Resize)
  ⇨   4 - रोटैट (Rotate)

सिलेक्शन टूल्स का प्रयोग | Using Selection Tools in MS-Paint


माइक्रोसॉफ्ट पेंट में होम टैब के इमेज (Image) कमांड ग्रुप में पहला ऑप्शन सिलेक्ट (Select) टूल का होता है। इस ऑप्शन का प्रयोग सिलेक्शन के लिए किया जाता है। इसके द्वारा विभिन्न सिलेक्शन टूल्स का प्रयोग किया जा सकता है।

Selection Tools in MS-Paint
Starting MS-Paint using Selection Tools

सिलेक्ट (Select) टूल मुख्य रूप से दो पार्ट्स में डिवाइड रहता है:
1- सिलेक्शन शेप्स (Selection Shapes)
2- सिलेक्शन ऑप्शन्स (Selection Options)

माइक्रोसॉफ्ट पेंट - सिलेक्शन शेप्स (Selection Shapes)


सिलेक्ट (Select) टूल का सिलेक्शन शेप्स ऑप्शन किसी भी इमेज को रेक्टेंगूलर (Rectangular) एवं फ्री फॉर्म (Free form) में सिलेक्ट करने के लिए उपयोग किया जाता है।

Rectangular and Free form selection in MS-Paint

1- रेक्टेंगूलर सिलेक्शन (Rectangular Selection) : आयताकार (Rectangular) सिलेक्शन के लिए माउस पॉइन्टर को क्लिक करके ड्रैग करना होता है, जिससे सिलेक्ट किये हुए एरिया पर डॉटेड लाइन (Dotted Line) दिखाई देने लगती है।

How to select image in Paint
MS-Paint Rectangle Selection

पैन्ट में सिलेक्ट करने के बाद सिलेक्ट किये हुए एरिया को कट/कॉपी अथवा मूव किया जा सकता है। सिलेक्शन को मूव कराने के लिए सिलेक्ट किए गए एरिया के अंदर माउस पॉइंटर को ले जाकर उपरोकतानुसार ड्रैग करके केनवास पर कहीं भी ड्रॉप कर सकते हैं।

2- फ्री फॉर्म सिलेक्शन (Free form Selection) : फ्री फॉर्म सिलेक्शन के लिए माउस पॉइन्टर को पैन्ट केनवास पर किसी भी फॉर्म में क्लिक करके ड्रैग करना होता है, जिससे सिलेक्शन ड्रैग अनुसार शेप सिलेक्ट होता है। सिलेक्ट किये हुए एरिया पर डॉटेड लाइन (Dotted Line) रेक्टेंगूलर फॉर्म में ही दिखाई देती है। लेकिन जब ड्रैग एण्ड ड्रॉप करने पर सिलेक्ट किया हुआ एरिया ही मूव होता है।

How to free form select image in Paint
MS-Paint Free form Selection

माइक्रोसॉफ्ट पेंट - सिलेक्शन ऑप्शन्स (Selection Options)

सिलेक्शन ऑप्शन्स (Selection Options) में निम्नानुसार ऑप्शन दिए गए हैं।
  ⇨   1 - सिलेक्ट ऑल (Select All)
  ⇨   2 - इन्वर्ट सिलेक्शन (Invert Selection)
  ⇨   3 - डिलीट (Delete)
  ⇨   4 - ट्रांसपेरेन्ट सिलेक्शन (Transparent Selection)

1 - सिलेक्ट ऑल (Select All) : सिलेक्ट ऑल ऑप्शन का प्रयोग पूरे केनवास के सिलेक्शन के लिए किया जाता है। जिससे केनवास पर जो भी ऑब्जेक्ट होते हैं वे सभी एक बार में सिलेक्ट हो जाते हैं एवं पूरे केनवास पर डॉटेड लाइन (Dotted Line) दिखाई देने लगती है। कीबोर्ड शॉर्टकट   Ctrl + A   का प्रयोग भी सिलेक्ट ऑल के लिए किया जाता है।

2 - इन्वर्ट सिलेक्शन (Invert Selection) : इन्वर्ट सिलेक्शन ऑप्शन का प्रयोग पूर्व से सिलेक्ट किए गए एरिया को छोड़ कर बाकी के एरिया को सिलेक्ट करने के लिए किया जाता है। जिससे पुराना सिलेक्शन छोड़ कर अन्य एरिया सिलेक्ट हो जाता हैं।
इसे निम्नानुसार समझा जा सकता है।

MS-Paint Invert Selection
Invert Selection in MS-Paint

3 - डिलीट (Delete) : डिलीट ऑप्शन का प्रयोग सिलेक्ट किए गए ऑब्जेक्ट को डिलीट करने के लिए किया जाता है। जिससे सिलेक्ट किया गया एरिया डिलीट हो जाता है। कीबोर्ड शॉर्टकट   Del Key   का प्रयोग भी डिलीट (Delete) के लिए किया जाता है।

4 - ट्रांसपेरेन्ट सिलेक्शन (Transparent Selection) : ट्रांसपेरेन्ट सिलेक्शन ऑप्शन के द्वारा सिलेक्ट किए गए ऑब्जेक्ट के साथ केनवास का जो हिस्सा सिलेक्ट किया जाता है, वह ट्रांसपेरेंट दिखाई डेटा है। जो कि सामान्य सिलेक्शन पर सफेद (White) कलर के रूप में सिलेक्ट होता है। यह किसी भी ऑब्जेक्ट को अन्य ऑब्जेक्ट के साथ प्रयोग करने के लिए महत्त्वपूर्ण होता है। इसे निम्नानुसार समझा जा सकता है।

Using Transparent Selection in MS-Paint
Transparent Selection in MS-Paint

इमेज को क्रॉप कैसे करें? | How to Crop an Image?

माइक्रोसॉफ्ट पेंट में किसी इमेज को क्रॉप करने के लिए इमेज टूल से क्रॉप कमांड बटन का प्रयोग किया जाता है। किसी भी इमेज को क्रॉप करने के लिए उसे सिलेक्ट निम्नानुसार सिलेक्ट करके क्रॉप बटन पर क्लिक करेंगे। इससे सिलेक्ट किए गए एरिया के अनुसार इमेज क्रॉप हो जाती है।

Using Crop in MS-Paint
Crop Image in MS-Paint

क्रॉप का उपयोग किसी इमेज से अनावश्यक एरिया को अलग करने अथवा किसी विशेष एरिया को फोकस करने हेतु अलग करने के लिए किया जाता है। क्रॉप करने पर केवल सिलेक्शन के द्वारा सिलेक्ट की गई इमेज ही सामने दिखाई देगी।

इमेज को रिसाइज़ एवं स्क्यू करना | Resize and Skew Image in MS-Paint

माइक्रोसॉफ्ट पेंट में किसी इमेज को रोटैट अथवा फ्लिप करने के लिए रिसाइज़ (Resize) कमांड बटन का प्रयोग किया जाता है। इस बटन पर क्लिक करने से रिसाइज़ एवं स्क्यू (Resize and Skew) डायलॉग बॉक्स ओपन होत है जिसके द्वारा आवश्यकतानुसार इमेज का साइज़ बदला जा सकता है। किसी भी इमेज के साइज़ को उसके साइज़ पर्सेंटेज (Percentage) या पिक्सेल (Pixel) की वैल्यू डाल कर परिवर्तित किया जा सकता है। मैन्टैन ऐस्पेक्ट रैशियो (Maintain Aspect Ratio) चेक बॉक्स के द्वारा इमेज के साइज़ रैशियो के अनुसार ऑटोमैटिक परिवर्तित हो जाता है।

Resize Image  in MS-Paint
Resize Image in MS-Paint

स्क्यू (Skew) ऑप्शन का उपयोग किसी इमेज को हॉरिजॉन्टली अथवा वर्टिकल रूप में स्क्यू करने के लिए किया जाता है। रिसाइज़ एवं स्क्यू (Resize and Skew) डायलॉग बॉक्स में स्क्यू ऑप्शन में डिग्री वैल्यू को डाल कर इमेज को हॉरिजॉन्टली अथवा वर्टिकली स्क्यू किया जा सकता है।

Skew Image in MS-Paint
Skew Image in MS-Paint

इमेज को रोटैट / फ्लिप करना | Rotate / Flip Image in MS-Paint

माइक्रोसॉफ्ट पेंट में किसी इमेज को रोटैट अथवा फ्लिप करने के लिए   Rotate   कमांड बटन का प्रयोग किया जाता है। रोटैट (Rotate) बटन पर क्लिक करने पर यह ड्रॉप डाउन द्वारा निम्न ऑप्शन दिखाता है।
  1 - Rotate right 90°
  2 - Rotate left 90°
  3 - Rotate 180°
  4 - Flip vertical
  5 - Flip horizontal

Rotate/Flip Image Image in MS-Paint
Rotate / Flip Image in MS-Paint

इमेज को रोटैट एवं फ्लिप करने के लिए संबंधित ऑप्शन पर क्लिक करके इमेज को रोटैट अथवा फ्लिप किया जा सकता है।




















Tags - What is Paint? Introduction To MS Paint. What is the use of MS paint? Starting MS-Paint Program, MS-Paint Program Window, Open, Edit and Save Picture in MS-Paint, MS-Paint Home Tab, Using View Tab, MS-Paint - Image Tools, Introduction to Image Tools, Using Selection Tools in MS-Paint, How to Crop an Image? Resize and Skew Image in MS-Paint, Rotate / Flip Image in MS-Paint. MS Paint क्या है और कैसे सीखें ? MS-Paint क्या है? MS-Paint को विस्तार से जानिए माइक्रोसॉफ्ट पेंट का परिचय, माइक्रोसॉफ्ट पेंट प्रोग्राम स्टार्ट करना, माइक्रोसॉफ्ट पेंट प्रोग्राम विंडो के मुख्य भाग, माइक्रोसॉफ्ट पेंट में पिक्चर ओपन, एडिट एवं सेव करना, माइक्रोसॉफ्ट पेंट होम टैब, व्यू टैब का प्रयोग, माइक्रोसॉफ्ट पेंट - इमेज टूल्स, इमेज टूल्स का परिचय, सिलेक्शन टूल्स का प्रयोग, इमेज को क्रॉप कैसे करें? इमेज को रिसाइज़ एवं स्क्यू करना, इमेज को रोटैट / फ्लिप करना, पेंट शॉर्टकट की का प्रयोग कैसे करें?



 

||    Theory    ||    Practicals    ||    Video Tutorials    ||    Online Test Series   ||


How to use MS-Paint Hindi Notes

Computer Hindi Notes | Microsoft Paint

 माइक्रोसॉफ्ट पेंट | Microsoft Paint

How to use MS-Paint?

माइक्रोसॉफ्ट पेंट (MS-Paint) एक बेसिक ग्राफिक्स / ड्राइंग प्रोग्राम है जो विंडोज के सभी संस्करणों में शामिल रहा  है। पेंट प्रोग्राम का उपयोग ड्राइंग बनाने, कलर करने एवं किसी भी फोटो / ग्राफ़िक फाइल को एडिट करने के लिए किया जा सकता है।
इस प्रोग्राम के द्वारा बनाई गई ड्राइंग को JPG, PNG, GIF तथा BMP फॉर्मेट में सेव किया जा सकता है।

माइक्रोसॉफ्ट पेंट का परिचय | Introduction to Microsoft-Paint

माइक्रोसॉफ्ट पेंट (MS-Paint), एक इमेज एडिटिंग प्रोग्राम है जिसे विन्डोज़ के पहले संस्करण के साथ ही एक मुफ्त टूल के रूप में शामिल किया गया है। विंडोज़ के पुराने वर्शन में इसे "पेंटब्रश" के नाम से जाना जाता था। माइक्रोसॉफ्ट पेंट (MS-Paint) प्रयोग करने में बहुत ही सरल प्रोग्राम है, जिसे ड्राइंग / पेंटिंग के लिए प्रयोग किया जाता है।
माइक्रोसॉफ्ट पेंट (MS-Paint), एक रेस्टर ग्राफिक्स एडिटिंग प्रोग्राम है जिसमें बिटमैप (.bmp), जेपीईजी (.jpeg), जीआईएफ (.gif), पीएनजी (.png) और टीआईएफएफ (.tiff) फॉर्मेट की फाइलें ओपन एवं सेव की जा सकती हैं।

माइक्रोसॉफ्ट पेंट प्रोग्राम स्टार्ट करना | Starting MS-Paint Program


विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम में माइक्रोसॉफ्ट पेंट एक्सेसरीज ग्रुप के अंतर्गत उपलब्ध कराया जाता है। माइक्रोसॉफ्ट पेंट (MS-Paint) को निम्न प्रकार से स्टार्ट किया जा सकता है:
1- प्रोग्राम मेन्यू से पेंट प्रोग्राम (MS-Paint) को निम्न प्रकार से स्टार्ट किया जा सकता है:
  ⇨  Step 1 - स्टार्ट बटन पर क्लिक कीजिए
  ⇨  Step 2 - स्टार्ट मेन्यू से विंडोज एक्सेसरीज ग्रुप सिलेक्ट कीजिए
  ⇨  Step 3 - पेंट प्रोग्राम पर क्लिक कीजिए
  ⇨  Step 4 - टास्कबार के सर्च बटन पर Paint टाइप करने पर विंडोज़ द्वारा पेंट प्रोग्राम सर्च कर दिखाया जाता है, इस प्रोग्राम के आइकॉन पर क्लिक करके भी पेंट को स्टार्ट किया जा सकता है:

Open MS-Paint Start Button & Search Box
Starting MS-Paint using Start Button & Search Box

2- रन कमांड : शॉर्टकट की विंडोज + R (Windows+R) के द्वारा रन डायलॉग बॉक्स में MSPAINT टाइप कर ok बटन पर क्लिक करके भी पेंट को स्टार्ट किया जा सकता है.

Starting MS-Paint using Run Command
Starting MS-Paint using Run Command


माइक्रोसॉफ्ट पेंट प्रोग्राम विंडो | MS-Paint Program Window


पेंट के स्टार्ट होने पर चित्रानुसार प्रोग्राम विंडो प्रदर्शित होती है. पेंट प्रोग्राम विंडो के मुख्य अवयव निम्न हैं.

MS-Paint Program Window Components
MS-Paint Program Window

माइक्रोसॉफ्ट पेंट - टाइटल बार | MS-Paint - Title Bar


विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम में प्रत्येक प्रोग्राम एक निश्चित प्रोग्राम विंडो के रूप में ओपन होता है. प्रोग्राम विंडो के सबसे ऊपर टाइटल बार होता है. पेंट प्रोग्राम के टाइटल बार पर Untitled-Paint प्रदर्शित होता है. फाइल को सेव करने पर फाइल का नाम दिखाई देने लगता है.

MS-Paint Title Bar
MS-Paint Title Bar


विंडोज़ के सभी प्रोग्राम्स की तरह ही पेंट के टाईटल बार में पेंट आइकॉन, फ़ाईल का नाम एवं विंडोज़ कण्ट्रोल बटन दिए रहते है। टाइटल बार में दाईं ओर स्थित कंट्रोल बटन विंडो को कण्ट्रोल करने की सुविधा देते हैं. इसमे मिनीमाइज, मैक्सीमाइज / रिस्टोर एवं क्लोज बटन (X) दिए गए हैं। विंडो को उसके अधिकतम साइज़ अथवा पुराने साइज़ में रिस्टोर करता है। किसी भी प्रोग्राम विंडो को बंद करने के लिए प्रयोग किया जाता है।

माइक्रोसॉफ्ट पेंट बटन | MS-Paint Button


पेंट बटन, पेंट प्रोग्राम विंडो का एक प्रमुख भाग है, यह बटन फाइल मेन्यू की तरह होता है. इसके मेनू में पेंट में बनाई जाने वाली फाईल के लिए कई कार्यों हेतु विकल्प जैसे न्यू, सेव, ओपन, प्रिंट, आदि दिए गए हैं।

MS-Paint File Menu
MS-Paint Button / File Menu

माइक्रोसॉफ्ट पेंट - क्विक एक्सैस टूलबार | MS-Paint - Quick Access Toolbar


क्विक एक्सैस टूलबार पेंट विंडो के टाईटल बार के बायीं ओर होता है. इसे क्विक शॉर्टकट की तरह उपयोग मे लिया जाता है। इस टूलबार में सामान्य रूप से ज्यादातर उपयोग में लाई जाने वाली कमाण्ड को तेजी से एक क्लिक के द्वारा उपयोग किया जा सकता है। इसे यूज़र अपनी आवश्यकता अनुसार कस्टमाइज करके प्रयोग कर सकते हैं।

MS-Paint - Quick Access Toolbar
MS-Paint Quick Access Toolbar

क्विक एक्सैस टूलबार में सामन्यतः अनडू, रीडू, प्रिंट, सेव, प्रिंट प्रीव्यू आदि कमांड्स को शीघ्रता से प्रयोग कर सकते हैं, ड्राप डाउन बटन से इन कमांड्स को सिलेक्ट किया जा सकता है।

माइक्रोसॉफ्ट पेंट - होम एवं व्यू टैब रिबन | MS-Paint - Home & View Tab Ribbon


माइक्रोसॉफ्ट पेंट में होम टैब एवं व्यू टैब रिबन के रूप में टाईटल बार के नीचे दिए गए हैं। इन टैब के द्वारा पेंट में कार्य करने हेतु विभिन्न टूल्स को सम्मिलित किया गया है। इन कमांड को माउस द्वारा क्लिक करके अथवा कीबोर्ड द्वारा शॉर्टकट की से उपयोग किया जा सकता है।

MS-Paint Home Tab
MS-Paint - Home Tab

माइक्रोसॉफ्ट पेंट होम टैब रिबन में मुख्य रूप से 7 कमांड ग्रुप दिए गए हैं, जिनके द्वारा इमेज एडिटिंग एवं ड्राइंग / पेंटिंग कार्य आसानी से किए जा सकते हैं।

MS-Paint View Tab
MS-Paint - View Tab

व्यू टैब द्वारा इमेज को ज़ूम इन एवं ज़ूम आउट के साथ साथ रुलर्स एवं ग्रिड लाइन को इनैबल / डिसैबल करने के लिए प्रयोग किया जाता है।

माइक्रोसॉफ्ट पेंट - वर्क एरिया (कैनवास) | MS-Paint - Work Area (Canvas)


माइक्रोसॉफ्ट पेंट में वर्क एरिया जिसे कैनवास भी कहा जाता है, सबसे महत्वपूर्ण भाग है जिसमें इमेज एडिटिंग / ड्राइंग / पेंटिंग की जाती है । यह प्रोग्राम विंडो के बीच का खाली स्थान होता है।

MS-Paint - Work Area (Canvas)
MS-Paint - Work Area (Canvas)

माइक्रोसॉफ्ट पेंट में कैनवास पर माउस की सहायता से विभिन्न कार्य किए जाते हैं। यह प्रोग्राम विंडो का सबसे महत्त्वपूर्ण भाग होता है।

माइक्रोसॉफ्ट पेंट - स्टेटस बार | MS-Paint - Status bar


स्टेटस बार, पेंट विंडो में कैनवास के नीचे होता है। इस बार में कर्सर पोजीशन, सिलेक्ट किए गए एरिया का साइज़, इमेज का साइज़, फाइल साइज़ के साथ साथ ज़ूम स्लाइडर दिया गया है, जिसकी सहायता से किसी भी इमेज को आवश्यकतानुसार Zoom in तथा Zoom out किया जा सकता है।

MS-Paint - Status bar
MS-Paint - Status bar

माइक्रोसॉफ्ट पेंट में फाइल बनाना, ओपन एवं सेव करना | Creating, Open and Save files in MS-Paint


माइक्रोसॉफ्ट पेंट प्रोग्राम के द्वारा आसानी से ड्राइंग एवं पेंटिंग का कार्य किया जा सकता है, यह प्रोग्राम किसी भी इमेज को ओपन करने के लिए विंडोज़ का डिफ़ॉल्ट प्रोग्राम होता है। नई फ़ाइल बनाने के लिए – फाइल मेनू से New आप्शन पर क्लिक करें। की-बोर्ड शॉर्टकट CTRL+N के द्वारा भी न्यू फाइल विंडो को ओपन किया जा सकता है। माइक्रोसॉफ्ट पेंट में कैनवास पर माउस की सहायता से विभिन्न टूल्स का उपयोग करके आसानी से ड्रा / पेंट किया जा सकता है।

फाइल मेनू से सेव ऑप्शन पर क्लिक करने पर सेव डायलॉग बॉक्स दिखाई देता है, इस डायलॉग बॉक्स में फाइल को सेव करने हेतु लोकेशन / फोल्डर जिसमें फाइल को सेव करना होता है, को सिलेक्ट कर फाइलनेम बॉक्स में फ़ाइल का नाम टाइप करके फाइल को सेव किया जा सकता है। पेंट डिफ़ॉल्ट रूप से फ़ाइलों को सेव करने के लिए पोर्टेबल नेटवर्क ग्राफ़िक्स (Portable Network Graphics) .png फ़ाइल एक्सटेंशन का उपयोग करता है। की-बोर्ड शॉर्टकट CTRL+S के द्वारा भी फाइल विंडो को सेव किया जा सकता है।

>MS-Paint Saving File
MS-Paint | Saving File

यदि फाइल को किसी अन्य फॉर्मेट / टाइप में सेव किया जाना है तो सेव एज ऑप्शन से फ़ाइल टाइप  को सिलेक्ट कर अन्य फॉर्मेट जैसे .bmp, .jpg, .tif आदि में सेव किया जा सकता है।

माइक्रोसॉफ्ट पेंट में सेव की गई फ़ाइल को ओपन करने के लिए - फाइल मेनू पर क्लिक करें, और फिर ओपन पर क्लिक करें। पेंट में .png, .bmp, .jpg, .tif फाइल्स को ओपन कर सकते हैं। की-बोर्ड शॉर्टकट CTRL+O के द्वारा भी फाइल को ओपन किया जा सकता है।

माइक्रोसॉफ्ट पेंट होम टैब | MS-Paint Home Tab

माइक्रोसॉफ्ट पेंट होम टैब रिबन टाईटल बार के नीचे होता है। इस टैब के द्वारा पेंट में कार्य करने हेतु विभिन्न टूल्स को सम्मिलित किया गया है। इन कमांड को माउस द्वारा क्लिक करके अथवा कीबोर्ड द्वारा शॉर्टकट की से उपयोग किया जा सकता है. 

MS-Paint - Home Tab Ribbon
MS-Paint - Home Tab Ribbon

माइक्रोसॉफ्ट पेंट होम टैब रिबन में मुख्य रूप से 7 कमांड ग्रुप दिए गए हैं, जिनके द्वारा इमेज एडिटिंग एवं ड्राइंग / पेंटिंग कार्य आसानी से किए जा सकते हैं.
1-  क्लिपबोर्ड (Clipboard): क्लिपबोर्ड तीन विकल्प प्रदान करता है—कट, कॉपी और पेस्ट। जब कोई एरिया सिलेक्ट किया जाता है तो कट और कॉपी आइकन ऐक्टिव दिखाई देते हैं। कट / कॉपी के बाद ही किसी आइटम को पेस्ट किया जा सकता है।
2-  इमेज (Image) : इमेज ऑप्शन इमेज को सिलेक्ट एवं सामान्य एडिटिंग - क्रॉप, रिसाइज़, रोटैट, स्क्यू आदि के लिए प्रयोग किया जाता है।
3-  टूल्स (Tools) : टूल्स ऑप्शन द्वारा ड्रॉइंग एवं पेंटिंग हेतु विभिन्न विकल्प - पेंसिल, टेक्स्ट, फिल कलर, ईरेजर, ब्रश आदि टूल्स के रूप में उपलब्ध होते हैं।
4-  शेप्स (Shapes) : शेप्स टूल्स पहले से बने हुए विभिन्न आकृतियों को इस प्रोग्राम में उपयोग करने की सुविधा उपलब्ध कराता है।
5-  साइज़ (Size) : साइज़ के द्वारा पेंसिल अथवा शेप्स के साइज़ को परिवर्तित किया जा सकता है।
6-  कलर (Color) : कलर टूल्स के द्वारा विभिन्न कलर को प्रयोग किया जा सकता है। इसके द्वारा बैकग्राउंड एवं फोरग्राउन्ड कलर सिलेक्ट कर उपयोग किए जा सकते हैं। साथ ही कलर पेलेट में नए कलर जोड़े जा सकते हैं।
7-  एडिट विद पैन्ट 3डी (Edit with Paint 3D) : विंडोज़ 10 के पैन्ट प्रोग्राम में यह विकल्प पैन्ट 3डी प्रोग्राम में कार्य करने की सुविद्या प्रदान करता है।

व्यू टैब का प्रयोग | Using View Tab



माइक्रोसॉफ्ट व्यू टैब का प्रयोग ज़ूम इन, ज़ूम आउट, शो/ हाइड एवं डिस्प्ले सेटिंग के लिए किया जाता है। इसे मुख्य रूप से 3 भागों में बाँटा गया है।
1-  ज़ूम (Zoom): इसके द्वारा इमेज को ज़ूम इन और ज़ूम आउट करने के साथ साथ 100% व्यू के लिए किया जाता है।
2-  शो या हाइड (Show / Hide): शो या हाइड के द्वारा स्टैटस बार, ग्रिड लाइन एवं रूलर को शो / हाइड किया जा सकता है।
3-  डिस्प्ले (Display): डिस्प्ले ऑप्शन फुल स्क्रीन व्यू अथवा थम्बनैल व्यू के लिए किया जाता है।

माइक्रोसॉफ्ट पैन्ट में पिक्चर्स एडिट करना | Editing Pictures in MS-Paint



माइक्रोसॉफ्ट पैन्ट में ड्रॉ एवं पैन्ट करना | Basic Drawing & Painting in MS-Paint























Tags - What is Paint? Introduction To MS Paint. What is the use of MS paint? Starting MS-Paint Program, MS-Paint Program Window, Open, Edit and Save Picture in MS-Paint, MS-Paint Home Tab, Using View Tab, MS-Paint - Image Tools, Introduction to Image Tools, Using Selection Tools in MS-Paint, How to Crop an Image? Resize and Skew Image in MS-Paint, Rotate / Flip Image in MS-Paint. MS Paint क्या है और कैसे सीखें ? MS-Paint क्या है? MS-Paint को विस्तार से जानिए माइक्रोसॉफ्ट पेंट का परिचय, माइक्रोसॉफ्ट पेंट प्रोग्राम स्टार्ट करना, माइक्रोसॉफ्ट पेंट प्रोग्राम विंडो के मुख्य भाग, माइक्रोसॉफ्ट पेंट में पिक्चर ओपन, एडिट एवं सेव करना, माइक्रोसॉफ्ट पेंट होम टैब, व्यू टैब का प्रयोग, माइक्रोसॉफ्ट पेंट - इमेज टूल्स, इमेज टूल्स का परिचय, सिलेक्शन टूल्स का प्रयोग, इमेज को क्रॉप कैसे करें? इमेज को रिसाइज़ एवं स्क्यू करना, इमेज को रोटैट / फ्लिप करना, पेंट शॉर्टकट की का प्रयोग कैसे करें?



 

||    Theory    ||    Practicals    ||    Video Tutorials    ||    Online Test Series   ||


Translate