ITI COPA

Classification of Computer Systems in Hindi

कम्प्यूटर्स का वर्गीकरण 

(Classification of Computer Systems) 

Classification of Computers



एक कंप्यूटर मानव जाति के सबसे शानदार आविष्कारों में से एक है। कंप्यूटर प्रौद्योगिकी के द्वारा हम बड़ी मात्रा में डेटा के भंडारण (स्टोरेज) और प्रोसेसिंग  को प्राप्त करने में हैं। हम सूचनाओं के भंडारण के लिए कंप्यूटर मेमोरी कैपेसिटी का उपयोग कर सकते हैं।  कंप्यूटर के कारण, हम दैनिक कार्य को कुशलतापूर्वक करने में सक्षम हैं। इसके द्वारा हम महत्वपूर्ण लेन-देन करते हैं और अपने कार्यो को सटीकतापूर्वक पूर्ण करते हैं। 

पहले के समय के कंप्यूटर एक बड़े कमरे के आकार के होते थे और उन्हें बड़ी मात्रा में बिजली का उपभोग करना पड़ता था। हालांकि, एडवांस टेक्नोलॉजी के साथ कंप्यूटर एक छोटी घड़ी के आकार तक सिकुड़ गए हैं। कंप्यूटर की प्रोसेसिंग स्पीड और आकार के आधार पर उन्हें विभिन्न प्रकारों के तहत वर्गीकृत किया गया है। कंप्यूटर का वर्गीकरण निम्नानुसार है:


अनुप्रयोग के आधार पर कम्प्यूटरों के प्रकार (Classification of Computers as per their Working) 


कंप्यूटर के परिचालन सिद्धांत के आधार पर उन्हें एनालॉग, डिजिटल और हाइब्रिड कंप्यूटर के रूप में वर्गीकृत किया गया है। यद्यपि कम्प्यूटर के अनेक अनुप्रयोग हैं जिनमे से तीन अनुप्रयोगों के आधार पर कम्प्यूटरों के तीन प्रकार होते हैं 


एनालॉग कम्प्यूटर (Analog Computers) 


एनालॉग कंप्यूटर एक डिजिटल कंप्यूटर से अलग हैं क्योंकि एक एनालॉग कंप्यूटर एक साथ कई गणितीय कार्य कर सकता है। यह गणितीय कार्यों के लिए निरंतर चर (Variable) का उपयोग करता है और यांत्रिक या विद्युत ऊर्जा का उपयोग करता है। एनालॉग कम्प्यूटर वे कम्प्यूटर है जो अंको पर कार्य न करते हुए भौतिक रूप से उपलब्ध डाटा पर सीधे कार्य करते है। भौतिक रूप से उपलब्ध डाटा से हमारा तात्पर्य है कि हम विभिन्न भौतिक इकाइयों को अंको में परिवर्तित न करते हुए सीधे कम्प्यूटर में इनपुट करते है। 


भौतिक मात्राएँ,  जैसे – तापमान, दाब, गति, वोल्टेज, प्रतिरोध इत्यादि का मापन करते है न कि गणना करते है क्योंकि इनका मान सतत रूप से बदल सकता है अर्थात कोई भी मान हो सकता है। यहाँ तापमान अंको के रूप में इनपुट न करके तापमान के रूप में इनपुट किया जाता है। इस प्रकार के कम्प्यूटर विशेष अनुप्रयोगों हेतु ज्यादा काम आते है।

डिजिटल कम्प्यूटर (Digital Computers)


डिजिटल कंप्यूटर इलेक्ट्रॉनिक संकेतो पर चलते हैं तथा गणना के लिए बाइनरी सिस्टम (0 या 1) पद्धति का प्रयोग किया जाता है। डिज़िटल कंप्यूटर एक ऐसा उपकरण है जो संख्यात्मक और प्रतीकात्मक जानकारी को निर्दिष्ट गणनात्मक प्रकियाओं के अनुरूप बदलता है। डिजिटल कंप्यूटर कंप्यूटर दो स्थिति पर संचालित करने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं, अर्थात् बिट्स 0 और 1. इसके लिए वे डिजिटल सर्किट का उपयोग करते हैं. इन कंप्यूटरों पर डेटा 0s और 1s की एक श्रृंखला के रूप में दर्शाया गया है। डिजिटल कंप्यूटर जटिल संगणना के लिए उपयुक्त हैं और उच्च प्रोसेसिंग स्पीड वाले होते हैं। वे प्रोग्राम करने योग्य हैं। डिजिटल कंप्यूटर या तो सामान्य प्रयोजन के कंप्यूटर या विशेष उद्देश्य वाले होते हैं। सामान्य प्रयोजन के कंप्यूटर, जैसा कि उनके नाम से पता चलता है, विशिष्ट प्रकार के डेटा प्रसंस्करण के लिए डिज़ाइन किए गए हैं, जबकि सामान्य प्रयोजन के कंप्यूटर सामान्य उपयोग के लिए हैं। आज के समय में प्रचलित अधिकांश कंप्यूटर इसी प्रकार के हैं। 


हाईब्रिड कम्प्यूटर (Hybrid Computers 


वे कम्प्यूटर जिनमे एनालॉग एवं डिजिटल कम्प्यूटर दोनों के गुण हो, हाइब्रिड कम्प्यूटर कहलाते है। हाइब्रिड कंप्यूटर डिजिटल और एनालॉग कंप्यूटर दोनों का एक संयोजन है। इस प्रकार के कंप्यूटरों में, डिजिटल सेगमेंट एनालॉग सिग्नल को डिजिटल सिग्नल में परिवर्तित करके प्रोसेस को कण्ट्रोल करते हैं।

उदाहरण के लिए इनपुट डाटा एनालॉग फॉर्म में हो सकता है जिसे कम्प्यूटर संसाधन करके आउटपुट डिजिटल रूप में देता है। उदाहरण के लिए किसी रोगी का रक्तचाप, धड़कन, इत्यादि मापने के लिए एनालॉग डिवाइस हो तथा उन्हें कम्प्यूटर में इनपुट करने के लिए पहले डिजिटल रूप में बदला जाए और परिणाम डिजिटल रूप में ही स्क्रीन पर प्रदर्शित हो।


आकार के आधार पर कम्प्यूटरों के प्रकार (Classification of Computers as per their Size) 


कंप्यूटरों के आकार और प्रोसेसिंग स्पीड के आधार पर विभिन्न प्रकार के कंप्यूटरों का वर्गीकरण है। आकार के आधार पर हम कम्प्यूटरों को निम्न श्रेणियाँ प्रदान कर सकते हैं –

मेनफ्रेम कम्प्यूटर (Mainframe Computers) 


बहुत अधिक क्षमता वाले बड़े कम्प्यूटर जिन पर कई लोग एक साथ काम कर सकते हैं, मेन-फ्रेम कम्प्यूटर कहलाते हैं। मेनफ्रेम कंप्यूटर बड़े संगठन अत्यधिक महत्वपूर्ण अनुप्रयोगों जैसे कि बल्क डेटा प्रोसेसिंग और ईआरपी के लिए मेनफ्रेम का उपयोग करते हैं। अधिकांश मेनफ्रेम कंप्यूटर में कई ऑपरेटिंग सिस्टम होस्ट करने और कई वर्चुअल मशीन के रूप में काम करने की क्षमता होती है। वे कई छोटे सर्वरों के स्थान पर कार्य कर सकते हैं।


मिनी कम्प्यूटर्स (Mini Computers)


मध्यम श्रेणी के कम्प्यूटर मिनी कम्प्यूटर कहलाते हैं। इन कम्प्यूटरों पर कुछ थोड़े से ही व्यक्ति एक साथ काम कर सकते हैं। आकार और प्रसंस्करण क्षमता के संदर्भ मेंमिनी कम्प्यूटर्स मेनफ़्रेम और माइक्रो कंप्यूटर के बीच स्थित है। मिनी कम्प्यूटर्स को मिड-रेंज सिस्टम या वर्कस्टेशन भी कहा जाता है। इस शब्द का उपयोग 1960 के दशक में अपेक्षाकृत छोटे तीसरी पीढ़ी के कंप्यूटरों के लिए लोकप्रिय रूप से किया जाने लगा। मिनी कम्प्यूटर्स में 12-बिट पीडीपी -8 (PDP-8) पहला सफल मिनीकंप्यूटर था।


माइक्रो कम्प्यूटर (Micro Computers)

 

इस समय सबसे अधिक संख्या उन कम्प्यूटरों की है जिनमें एक समय में केवल एक ही व्यक्ति काम कर सकता है। एक माइक्रोप्रोसेसर और इसकी केंद्रीय प्रसंस्करण इकाई के साथ एक कंप्यूटर एक माइक्रो कंप्यूटर के रूप में जाना जाता है। वे उतनी जगह नहीं घेरते जितना मेनफ्रेम लेते हैं। एक मॉनीटर, एक कीबोर्ड और इसी तरह के अन्य इनपुट-आउटपुट डिवाइस, रैम के रूप में कंप्यूटर मेमोरी और एक माइक्रो कंप्यूटर में एक बिजली आपूर्ति इकाई पैक की जाती है। ये कंप्यूटर डेस्क या टेबल पर फिट हो सकते हैं और एकल-उपयोगकर्ता कार्यों के लिए सबसे अच्छा विकल्प साबित होते हैं।

ये माइक्रो कम्प्यूटर आकार में छोटे एवं कम कीमत के होते हैं। निजी उपयोगों में लिए जाने के कारण इन कम्प्यूटरों को पर्सनल कम्प्यूटर्स या संक्षेप में पी.सी. भी कहा जाता है। इस प्रकार के कम्प्यूटर सिस्टम उपभोक्ताओं की विशेष आवश्यकताओं के अनुरूप ही बनाए जाते हैं। 


उद्देश्य के आधार पर कम्प्यूटरों के प्रकार (Types of computers based on purpose) 


कम्प्यूटर को दो उद्देश्यों के लिए हम स्थापित कर सकते हैं- सामान्य और विशिष्ट , इस प्रकार कम्प्यूटर उद्देश्य के आधार पर निम्न दो प्रकार के होते हैं :


सामान्य-उद्देशीय कम्प्यूटर (General Purpose Computers)  


सामान्य समस्याओं के समाधान हेतू निर्मित कम्प्यूटरो को जनरल परपज कम्प्यूटर कहते है। ये वेतन पत्र, एकाउंट्स तैयार करने में आरक्षण इत्यादि में प्रयोग लिए जाते है।


पर्सनल कंप्यूटर (Personal computers)

पर्सनल कंप्यूटर अलग-अलग रूपों में आते हैं जैसे डेस्कटॉप, लैपटॉप और पर्सनल डिजिटल असिस्टेंट।


विशिष्ट -उद्देशीय कम्प्यूटर (Special Purpose Computers) 

वे कम्प्यूटर जो किसी विशेष उद्देश्य कि प्राप्ति को लक्ष्य कर बनाए जाते है। इनका निर्माण मात्र एक ही उद्देश्य के लिए किया जाता है न कि सारे उद्देश्यों केलिए। अंतरिक्ष विज्ञान, मौसम विज्ञान, चिकित्सा, नाभिकीय यंत्रो आदि में इसका प्रयोग किया जाता है।


सर्वर (Servers) 

वे कंप्यूटर हैं जो कंप्यूटर नेटवर्क में क्लाइंट मशीनों को सेवाएं प्रदान करने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं। उनके पास बड़ी भंडारण क्षमता और शक्तिशाली प्रोसेसर हैं। उन पर चलना ऐसे प्रोग्राम हैं जो क्लाइंट अनुरोधों की सेवा करते हैं और क्लाइंट मशीनों को मेमोरी और समय जैसे संसाधन आवंटित करते हैं। आमतौर पर वे आकार में बहुत बड़े होते हैं, क्योंकि उनके पास बड़े प्रोसेसर और कई हार्ड ड्राइव होते हैं। वे विफल-सुरक्षित और क्रैश के प्रतिरोधी होने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं।


सुपर कंप्यूटर (Super Computers) 

अत्यधिक गणना-गहन कार्यों को सुपर कंप्यूटर के माध्यम से प्रभावी ढंग से किया जा सकता है। सुपर कंप्यूटर के माध्यम से क्वांटम भौतिकी, यांत्रिकी, मौसम पूर्वानुमान, आणविक सिद्धांत का सर्वोत्तम अध्ययन किया जाता है। समानांतर प्रसंस्करण की उनकी क्षमता और उनकी अच्छी तरह से डिज़ाइन की गई मेमोरी पदानुक्रम सुपर कंप्यूटर, बड़े लेनदेन प्रसंस्करण शक्तियां देती हैं।


वर्तमान में प्रयोग किए जा रहे कम्प्यूटरों के प्रकार (Types of computers currently being used) 


वर्तमान में कंप्यूटर अलग-अलग रूपों में आते हैं जैसे डेस्कटॉप, लैपटॉप और पर्सनल डिजिटल असिस्टेंट, टेबलेट, स्मार्टफोन इत्यादि। वर्तमान में प्रयोग किए जा रहे कंप्यूटर निम्नानुसार हैं।



डेस्कटॉप (Desktop Computers) 

डेस्कटॉप

डेस्कटॉप कंप्यूटर या डेस्कटॉप पीसी, एक कंप्यूटर है जिसे एक ही स्थान पर रखने के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह एक टॉवर टाइप (जिसे सिस्टम यूनिट (CPU) के रूप में भी जाना जाता है) या ऑल-इन-वन मशीन हो सकती है। कार्यस्थल और घरों में दैनिक उपयोग के लिए डेस्कटॉप व्यापक रूप से लोकप्रिय हैं।

कंप्यूटर के शुरुआती युग में, "डेस्कटॉप कंप्यूटर" शब्द का इस्तेमाल पीसी (Personal Computer) और बड़े कंप्यूटरों (जैसे कि मेनफ्रेम और सुपर कंप्यूटर) के बीच अंतर करने के लिए किया जाता था।



लैपटॉप (Laptop Computers) 

Laptop

डेस्कटॉप के ऑपरेशन के समान, लैपटॉप कंप्यूटर को मोबाइल उपयोग के लिए छोटा और अनुकूलित किया जाता है। लैपटॉप एक ही बैटरी या एक बाहरी एडॉप्टर पर चलते हैं जो कंप्यूटर की बैटरी को चार्ज करता है। वे इनबिल्ट कीबोर्ड, टच पैड एक्टिंग के साथ माउस और लिक्विड क्रिस्टल डिस्प्ले के साथ सक्षम होते हैं। उनकी पोर्टेबिलिटी और बैटरी पावर को संचालित करने की क्षमता मोबाइल उपयोगकर्ताओं के लिए बहुत मददगार साबित हुई है।



नोटबुक (Notebook Computers) 

Notebook





नोटबुक भी डेस्कटॉप के समान कार्य करने के लिए डिज़ाइन किए गए थे, लेकिन व्यावसायिक उपयोग की तुलना में व्यक्तिगत उपयोग के लिए अधिक तैयार किए गए थे। नोटबुक लैपटॉप की श्रेणी में आते हैं, लेकिन सस्ती और आकार में अपेक्षाकृत छोटे होते हैं। नियमित लैपटॉप की तुलना में इनका वजन कम होता है, लेकिन इनमें लैपटॉप की तरह ही सभी कार्य करने की क्षमता होती है। इन्हें नेटबुक के नाम से भी जाना जाता है।


पर्सनल डिजिटल असिस्टेंट (Personal Digital Assistant)  

Personal Digital Assistant

यह एक हैंडहेल्ड कंप्यूटर और लोकप्रिय रूप से पामटॉप के रूप में जाना जाता है। इसमें डेटा के भंडारण के लिए एक टच स्क्रीन और एक मेमोरी कार्ड है। पीडीए का उपयोग पोर्टेबल ऑडियो प्लेयर, वेब ब्राउज़र और स्मार्टफोन के रूप में भी किया जा सकता है। उनमें से अधिकांश ब्लूटूथ या वाई-फाई संचार के माध्यम से इंटरनेट का उपयोग कर सकते हैं।


पहनने योग्य कंप्यूटर (Wearable Computers)  

Wearable Computers







पहनने योग्य कंप्यूटर पहुंच और सुविधा के लिए डिज़ाइन किए गए हैं, साथ ही साथ कार्यस्थल में सुधार के लिए जानकारी जल्दी और आसानी से पहनने वाले को उपलब्ध कराती है। 

इन कंप्यूटरों को शरीर पर पहना जा सकता है और अक्सर व्यवहार मॉडलिंग और मानव स्वास्थ्य के अध्ययन में उपयोग किया जाता है। सैन्य और स्वास्थ्य पेशेवरों ने ऐसे अध्ययनों के एक हिस्से के रूप में पहनने योग्य कंप्यूटरों को अपनी दिनचर्या में शामिल किया है। जब उपयोगकर्ताओं के हाथ और संवेदी अंग अन्य गतिविधियों में लगे होते हैं, तो पहनने योग्य कंप्यूटर मानव कार्यों पर नज़र रखने में बहुत मदद करते हैं। पहनने योग्य कंप्यूटरों को चालू और बंद नहीं करना पड़ता है और उपयोगकर्ता के हस्तक्षेप के बिना ऑपरेशन में बने रहते हैं। फिटनेस ट्रैकर (Fitness Tracker), स्मार्ट वाच (Smart Watch), वी आर हेडसेट  (VR HeadSets) इसके उदहारण हैं। 

टैबलेट कंप्यूटर (Tablets) 

Tablets

टैबलेट मोबाइल कंप्यूटर हैं जिनका उपयोग करना बहुत आसान है। वे टच स्क्रीन तकनीक का उपयोग करते हैं। लैपटॉप की तरह, टैबलेट कंप्यूटर पोर्टेबल होते हैं। हालांकि, वे एक अलग कंप्यूटिंग अनुभव प्रदान करते हैं। सबसे स्पष्ट अंतर यह है कि टैबलेट कंप्यूटर में कीबोर्ड या टचपैड नहीं होते हैं। इसके बजाय, संपूर्ण स्क्रीन टच-सेंसिटिव है, जिससे आप वर्चुअल कीबोर्ड पर टाइप कर सकते हैं और माउस पॉइंटर के रूप में अपनी उंगली का उपयोग कर सकते हैं। टैबलेट कंप्यूटर, लैपटॉप कंप्यूटर और स्मार्टफोन के बीच के आकार होता है। 

स्मार्टफोन (Smartphones)

Smartphones





एक स्मार्टफोन एक सेलुलर टेलीफोन है जिसमें एक एकीकृत कंप्यूटर और अन्य विशेषताएं जैसे ऑपरेटिंग सिस्टम, वेब ब्राउजिंग और सॉफ्टवेयर एप्लिकेशन चलाने की क्षमता हैं। एक स्मार्टफोन एक सेल फोन है जो आपको फोन कॉल करने और टेक्स्ट मेसेज भेजने की तुलना में अधिक कार्य करने की अनुमति देता है। स्मार्टफोन इंटरनेट ब्राउज़ कर सकते हैं और कंप्यूटर की तरह सॉफ्टवेयर प्रोग्राम चला सकते हैं। स्मार्टफोन उपयोगकर्ताओं को उनके साथ बातचीत करने की अनुमति देने के लिए एक टच स्क्रीन का उपयोग करता है। गेम, व्यक्तिगत-उपयोग और व्यवसाय-उपयोग कार्यक्रम सहित हजारों स्मार्टफोन एप्लिकेशन हैं जो सभी फोन पर चलते हैं। 

आप स्मार्टफोन का उपयोग उन्हीं कामों के लिए कर सकते हैं जो आप सामान्य तौर पर कंप्यूटर पर करते हैं, जैसे कि अपना ईमेल चेक करना, वेब ब्राउज़ करना या ऑनलाइन शॉपिंग करना।





Tags - Computer Notes in Hindi Computer Fundamentals, Classification of Computer Systems Analog Computers Digital Computers Hybrid Computers Mainframe Computers  Mini Computers  Micro Computers General Purpose Computers Special Purpose Computers  Personal Computers Servers  Super Computers  Desktop  Laptop Notebook  Personal Digital Assistant  Wearable Computers Tablets Smartphones History of Computers, Basic Computer Question Bank, MCQs for ITI COPA, CCA, DCA, BCA, PGDCA, CPCT & Other Competitive Exams. Computer Hindi Notes for Computer FundamentalOperating SystemMS-OfficeDatabase Management SystemInternet & HTMLJava criptVBAAccounting Software, TallyInternet and E commerce, ComputerNetworking , Employability Skills

 

||    Theory    ||   Practicals    ||    Video Tutorials    ||    Online Test Series   ||